मध्य प्रदेश: चुनाव से पहले शिवराज को लगा एक और बड़ा झटका

0
47

नई दिल्ली: मध्य प्रदेश विधानसभा चुनाव की रणभेरी बज चुकी है. भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस दोनों ने एक दूसरे को कड़ी टक्कर देने के लिए कमर भी कस चुकी है. मगर चुनाव से पहले ही मध्य प्रदेश में एंटी इनकंबेंसी का  सामना कर रही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को एक और झटका लगा है. दरअसल, शुक्रवार को रीवा के पूर्व विधायक पुष्पराज सिंह ने कांग्रेस का हाथ थाम लिया है. पूर्व विधायक पुष्पराज सिंह ने कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी की उपस्थिति में शुक्रवार को कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण कर ली.

बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार और शुक्रवार को दो दिवसीय दौरे पर मध्य प्रदेश में थे. शुक्रवार को रीवा में पुष्पराज सिंह ने राहुल गांधी से मुलाकात की और कांग्रेस में शामिल होने का ऐलान किया. राहुल गांधी ने चित्रकूट और सतना में जनसभा की और लोगों के बीच भी गये.

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने ट्वीट कर कहा- रीवा के वरिष्ठ नेता श्री पुष्पराज सिंह जी ने आज कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के समक्ष पार्टी में वापसी की.पुष्पराज सिंह जी का कांग्रेस परिवार में पुनः स्वागत है.

दरअसल, पुष्पराज भाजपा के पूर्व विधायक हैं. उनके बेटे दिव्यराज सिंह रीवा जिले की सिरमौर विधानसभा सीट से भाजपा के विधायक हैं. पुष्पराज सिंह कांग्रेस के कार्यकाल में मंत्री भी रह चुके हैं. हालांकि, बाद में वे 2008 में समाजवादी पार्टी में शामिल हो गये थे. भारतीय जनता पार्टी के लिए यह दूसरा बड़ा झटका माना जा रहा है क्योंकि इससे पहले कटनी जिले की पद्मा शुक्ला ने कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की थी. पद्मा वर्ष 2013 में भाजपा के उम्मीदवार के तौर पर विजयराघवगढ़ से 900 वोटों से हारी थीं.

बता दें कि मध्य प्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर गये राहुल गांधी ने शिवराज सिंह चौहान सरकार पर जमकर हमला बोला. एक जनसभा को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने न सिर्फ मोदी सरकार को राफेल के मुद्दे पर घेरा, बल्कि मध्य प्रदेश में रोजगार और विकास के मुद्दे पर शिवराज सिंह पर भी हमला बोला.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here