जयपुर: केंद्र सरकार की वजह से 250 कश्मीरी बच्चों को विश्वविद्यालय ने हॉस्टल से निकाला

0
703

विश्वविद्यालय प्रशासन ने कहा ये छात्र शहर में अपने रहने का खुद इतंजाम कर विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने आ सकते हैं।

राजस्थान में करीब 250 कश्मीरी छात्रों को हॉस्टल से निकाल दिया गया है और वे अब स्थानीय मुस्लिम परिवारों से मदद मांग रहे हैं। यह मामला जयपुर के सुरेश ज्ञान विहार विश्वविद्यालय का है। छात्रों का कहना है कि विश्वविद्यालय द्वारा उन्हें इसलिए निकाला गया हैं क्योंकि उनके लिए केंद्र सरकार द्वारा दी जाने वाली स्कॉलरशिप विश्वविद्यालय को प्राप्त नहीं हुई है। इनमें ज्यादातर छात्र ऐसे हैं जो कि कश्मीर के आतंकवाद ग्रस्त क्षेत्र से आते हैं। मई 2016 में केंद्र सरकार ने केवल 100 छात्रों की ही स्कॉलरशिप दी थी। वहीं 320 छात्र जिनमें 70 लड़कियां है अभी भी अपनी स्कॉलरशिप का इतंजार कर रहे हैं।

फिलहाल लड़कियों को हॉस्टल में रहने की इजाजत दी गई है लेकिन जो छात्र पिछले तीन साल से विश्वविद्यालय में पढाई कर रहे हैं उन्हें 1 अगस्त तक हॉस्टल खाली करने के निर्देश दिए गए है। ये छात्र शहर में अपने रहने का खुद इतंजाम कर विश्वविद्यालय में पढ़ाई करने आ सकते हैं। छात्रों को पढ़ाई करने आने से मना नहीं किया गया। वे सरकार से अपनी स्कॉलरशिप रिलीज़ करने की मांग कर रहे हैं और वहीं दूसरी तरफ ने अपने रहने के लिए जगह ढूंढते फिर रहे है। एक छात्र ने कहा कि विश्वविद्यालय का दावा है कि जब 2015 से मेरा दाखिला यहां हुआ है तब से सरकार ने स्कॉलरशिप की एक भी कौडी विश्वविद्यालय को नहीं दी है। अगर सरकार के पास फंड को रिलीज़ करने का कोई प्लान ही नहीं होता तो वे स्कॉलरशिप इनाम में क्यों देते हैं?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here