खाने के तुरंत बाद नहीं पीना चाहिए पानी , हो सकती है ये बीमारी ..

0
36
नई दिल्ली: हम सभी अपने घरों में हमेशा से ये सुनते आए हैं कि खाना खाने के तुरंत बाद पानी नहीं पीना चाहिए। पानी पीना सेहत के लिए बहुत जरूरी है| दिन में कम से कम आठ गिलास पानी का सेवन करना चाहिए। गर्मी के मौसम में तो शरीर में पानी की कमी होने से कई तरह के रोग हो सकते हैं, इसलिए डिहाइड्रेशन से बचने के लिए तरह पदार्थ फायदेमंद रहते हैं। खाना खाने के दौरान भी पानी पीने से परहेज करने की सलाह दी जाती है। पर हममें से शायद ही कुछ लोगों को पता हो कि ऐसा क्यों कहा जाता है। अगर खाना खाने के बाद पानी पीना चाहिए तो कितनी फिर देर बाद? डॉक्टर्स का भी कहना है कि खाना खाने के तुरंत बाद पानी पीना पाचन क्रिया के लिए सही नहीं होता है|

भोजन के समय पानी पीने से यह पेट की सतह द्वारा सोख लिया जाता है। यह प्रक्रिया तब तक चलती रहती है जब तक कि पेट में पाचन के लिए जरूरी द्रव्य इतने अधिक गाढ़े न हो जाएं कि वे भोजन को पचा सकें। लेकिन खूब सारे पानी पीने के कारण यह द्रव्य पेट में मौजूद भोजन से भी अधिक गाढ़ा हो चुका होता है, ऐसे में भोजन पचाने के लिए पेट में गैस्ट्रिक जूस बनना शुरु हो जाता है। परिणामस्वरूप भोजन नहीं पचता और सीने में जलन होती है।

नहाने के बाद : जिन लोगो को हाई ब्लड प्रैशर की समस्या रहती है,उन्हें नहाने के पहले एक गिलास पानी पीना चाहिए। इसे रक्त चाप कम करने में मदद मिलती है। खाना खाने से पहले : पाचन क्रिया दुरुस्त करने के लिए खाना खाने के 40 मिनट पहले एक गिलास पानी का सेवन करें। इससे शरीर पोषण तत्वों को आसानी से अवशोषित कर लेता है।

सोने से पहले : रात को सोने से पहले किसी भी तरह के तरल पदार्थ जैसे कोल्ड ड्रिंक या फिर जूस पीने से बचना चाहिए। लेकिन सोने के एक घंटा पहले एक गिलास पानी पीएं। सुबह उठने के बाद : खाली पेट एक गिलास पानी जरूर पीएं,इससे शरीर से विषैले पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। कब्ज से छुटकार मिलता है और पेट तंदुरूस्त रहता है। आयुर्वेद के अनुसार खाना खाने के तुरंत बाद पानी का सेवन जहर के समान है। इससे पाचन शक्ति बुरी तरह से प्रभावित होती है। दरअसल,खाना खाने के बाद अमाशय में अग्नि प्रदीप्त होती है, जो एक नेचुरल प्रक्रिया है। इससे भोजन पचना शुरू हो जाता है जो पाचन क्रिया का अहम हिस्सा है। इस दौरान एक दम पानी का सेवन करने सेे यह अग्नि शांत हो जाती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here