अभी-अभी: CM योगी को काले झंडे दिखाने के जुर्म में जनता को सुरक्षाकर्मियों ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा

0
47

सुलतानपुरः उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को समाजवादी छात्र सभा के दर्जनों कार्यकर्त्ताओं के विरोध का सामना करना पड़ा।

दरअसल, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार सुबह राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस का शुभारंभ किया। उसके बाद जैसे ही मुख्यमंत्री योगी का काफिला जिलाधिकारी कार्यालय लिए बढ़ा वैसे ही तिकोनिया पार्क के पास समाजवादी छात्र सभा के दर्जनों कार्यकर्त्ता योगी आदित्यनाथ को काले झंडे दिखाने लगे। फिलहाल मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगी पुलिस ने तत्काल उन लोगों को गिरफ्तार कर लिया।

बता दें कि, इससे पहले सोमवार को दो दिवसीय दौरे पर प्रतापगढ़ मुख्यमंत्री पहुंचे थे, जहां सपा कार्यकर्त्ता सड़क पर आ गए और मुख्यमंत्री काे काला झंडा दिखाते हुए अपना विरोध जताया। इतना ही नहीं कार्यकर्त्ताआें ने इस दाैरान योगी के विरोध में नारेबाजी भी की।

इस दौरान मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगी पुलिस ने सपा कार्यकर्ताओं को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा, बाद में उन्हें गिरफ्तार भी किया।
बता दें कि इससे पहले योगी आदित्यनाथ को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में काले झंडे दिखाए जा चुके हैं। गाजियाबाद में एलिवेटेड रोड का उद्घाटन करने पहुंचे सीएम को वहां मौजूद कुछ लोगों ने काले झंडे दिखाए थे।

सोमवार को प्रतापगढ़ के मधुपुर गांव पहुंचे। यहां सीएम ने चौपाल लगाई और जनता के साथ सीधे संवाद किया। मधुपुर गांव के स्कूल प्रांगण में रात्रि चौपाल के इस कार्यक्रम में मुख्यमंत्री गांव के हजारों लोगों से मुखातिब हुए और एक-एक कर सभी योजनाओं के बारे में लोगों से जानकारी ली।

इसके अलावा योगी ने दलितों के यहां पर भोजन भी किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि यह कोई चुनावी व्यवस्था नहीं है। यह हमारे ग्राम स्वराज अभियान का हिस्सा है जिसमें समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति के घर भी विश्वास पैदा करना है और मैं उसी एजेंडे को लेकर आया हूं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here